NEFT, RTGS, IMPS, UPI Difference in Hindi

Hello दोस्तों स्वागत है आपका आज के इस Artical में।
NEFT, RTGS, IMPS, UPI Difference in Hindi
NEFT, RTGS, IMPS, UPI Difference in Hindi
आज के समय में भारत जैसे जैसे Digital बन रहा तो ऐसे में Banking sector भला पीछे क्यों रहे। Banking sector भी तेज़ी के साथ Digital India में अपना कदम रख रहा। Banking का कुछ काम आज कल घर बैठे ही हो जाता है। जिसमे एक है Money Transfer .
Money Transfer करने के लिए NEFT, RTGS, IMPS, UPI का इस्तेमाल किया जाता है।  लेकिन इनके बारे में बहुत से लोगो को पता नहीं होता है। तो आज के इस Artical में मैं आपको NEFT, RTGS, IMPS, UPI Difference in Hindi के बारे में बताने वाला हूँ। तो चलिए दोस्तों आपका ज्यादा Time न लेते हुए शुरू करते हैं

(1) NEFT
NEFT- का Full Form है National Electronic Funds Transfer इसकी Help हम किसी भी Bank से  किसी दूसरे Bank Account  में Fund Transfer कर सकते हैं। इसको November 2005 में शुरू किया गया था। 

इसमें Fund Transfer करने के लिए सबसे पहले जिस आदमी को Fund Transfer करना है उसको beneficiary के तौर पर Add करना होगा। साथ आपको उसकी Bank detail भी मालूम होनी चाहिए। जैसे Account name ,Bank Name , Account Number , IFSC code . ये सब डालने के बाद एक बार जब आप उसको net banking में  beneficiary Add कर देते हैं। तो उसके बाद NEFT mony Transfer कर सकते हैं।  

NEFT में 1 रुपए से लेकर 25 लाख तक Transfer कर सकते हैं। NEFT की Timing है रोजाना सुबह 7 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक। अगर आप  इसके बाद या इससे पहले Fund Transfer करते हैं तो वो अगले working days में ही process होगी। NEFT में पैसे transfer करने में 3 घंटे लगते हैं कभी कभी इससे ज्यादा Time लग जाता है। 

NEFT Charges


(2) RTGS

RTGS- का Full Form है Real Time Gross Settlement . जिसमे Fund को indivisible और order by order के basis पर बिना Neting के एक Account से दूसरे Account पर भेजा जाता है। अगर मैं आपको Simple Language में बताऊ तो इक ऐसा Online method है जहाँ Fund को एक Bank से दूसरे Bank तक बिना किसी Waiting period के भेजा जा सकता है। RTGS आप Online भी कर सकते हैं और Offline भी कर सकते हैं। RTGS में Fund को Online Transfer कर ने के लिए सबसे पहले जिस आदमी को Fund Transfer करना है उसको beneficiary के तौर पर Add करना होगा। साथ आपको उसकी Bank detail भी मालूम होनी चाहिए। जैसे Account name ,Bank Name , Account Number , IFSC code . ये सब डालने के बाद एक बार जब आप उसको net banking में  beneficiary Add कर देते हैं। तो उसके बाद RTGS से  mony Transfer कर सकते हैं।
NEFT में पैसे Transfer करने की कोई Limit नहीं है लेकिन RTGS में पैसे Transfer करने की एक limit है। यानि कम से कमकम दो लाख रुपए transfer कर सकते हैं और ज्यादा की कोई Limit नहीं है। 

RTGS की Timing है सुबह 9 बजे से लेकर शाम 4 :30 बजे तक। और अगर आप Saturday को  9 बजे से लेकर दोपहर 2 बजे तक 

RTGS Charges



(3) IMPS 

IMPS का Full Form है Immediate payment Service आज के समय में सबसे ज्यादा Imps का Use किया जाता है। Imps एक ऐसा Payment method  जहाँ Real Time में पैसे एक Account से दूसरे Account में भेज सकते हैं इसमें पैसे Immediately transfer हो जाते हैं। इसमें fund को दो तरिको से Transfer कर सकते हैं या तो आप के पास सामने वाले की Bank detail होनी चाहिए या उसकी MMID और और उसका mobile no होना चाहिए।  Imps के जरिये आप per day एक लाख रुपए transfer कर सकते हैं इससे ज्यादा नहीं कर सकते हैं। 
IMPS की Timing है 24 Hours में कभी भी money transfer कर सकते हैं। 
IMPS के Charges same NEFT वाले हैं 

(4) UPI 

UPI का full form है Unified Payments Interface . ये एक ऐसा तरीका है जिसमे आप किसी को भी किसी भी समय पैसे Transfer कर सकते हैं। Upi को शुरू NPCI ने कीया है। NPCI का full form  National Payments Corporation of India है। ये वो Organization है जो mange करती India के सभी ATM को। और उनके बिच हो रहे interbank transaction को। Upi से पैसे transfer करने की एक Limit है आप per day 10 transaction या एक लाख रुपए ही transfer कर सकते हैं। इसको Use करने के लिए आप किसी भी UPI Apps का Use कर सकते हैं। जैसे bheem, phonepay 
UPI  में पैसे Transfer करने की एक छोटा सा चार्ज है 50 पैसे। 

उम्मीद है आपको NEFT, RTGS, IMPS, UPI Difference in Hindi हमारी ये जानकारी पसंद आयी होगी। ऐसे ही latest जानकारी के लिए हमारे Blog को Subscribe  करें। 

Was this helpful?

Post a Comment

0 Comments